आप सब 'पाखी' को बहुत प्यार करते हैं...

बुधवार, मई 14, 2014

बुद्धम् शरणम गच्छामि

बुद्धम् शरणम गच्छामि … लुम्बिनी में जन्म, बोधगया में ज्ञान, सारनाथ में प्रथम उपदेश, कुशीनगर में निर्वाण …… इनमें से बोधगया को छोड़कर सभी जगहों का दर्शन हम कर चुके हैं।  संयोगवश, आज बुद्ध पूर्णिमा भी है।  बुद्ध का माध्यम मार्ग जीवन का सार भी बताता है। बुद्ध पूर्णिमा पर शत-शत नमन !!



जब पिछले साल हम लुम्बिनी, नेपाल गए थे तो वहाँ बुद्ध की जन्मस्थली के बाहर का दृश्य।



सारनाथ में प्रथम उपदेश



कुशीनगर में निर्वाण


एक टिप्पणी भेजें