आप सब 'पाखी' को बहुत प्यार करते हैं...

मंगलवार, अप्रैल 20, 2010

शिप पर चली गाड़ी, फिर माउन्ट हैरियट का नजारा

इस बार मैं माउन्ट हैरियट (Mount Harriet) पर घूमने गई. ब्रिटिश काल में माउन्ट हैरियट चीफ कमिश्नर का ग्रीष्मकालीन आवास था। इसका नामकरण कर्नल आर. सी. टाईटलर की पत्नी हेरियट के नाम पर हुआ, जिसने 1862 के दौरान इस क्षेत्र को चीफ कमिशनर के ग्रीष्मकालीन आवास के रूप में चुना। पोर्टब्लेयर से सड़क द्वारा 55 व नाव द्वारा 15 किलोमीटर की दूरी पर अवस्थित माउन्ट हेरियट (Mount Harriet) दक्षिण अंडमान का सबसे उंचा पहाड़ (Highest peak of South Andman) भी है। पिकनिक, ट्रेकिंग व चिड़ियों को देखने के लिए यह उत्तम स्थल है।वाकई इसे देखना अद्भुत नज़ारा था. यहाँ जाने के लिए हमारी गाड़ी को शिप से जाना पड़ा. हम गाड़ी में ही बैठे रहे और कुछ देर बाद शिप ने हमारी गाड़ी को उस पर उतार दिया. माउन्ट हैरियट का नजारा देखने के लिए हमें माउन्ट हैरियट नेशनल पार्क (Mount Harriet National Park) में प्रवेश करना पड़ा. वर्तमान में माउन्ट हेरियट 46.62 वर्ग कि0मी0 क्षे. में राष्ट्रीय पार्क के रूप में विस्तृत है और नवम्बर 1996 में इसे आरक्षित वन के रूप में चिन्हित किया गया। घने जंगलों से हरा-भरा यह पार्क कभी डरावना लगता कभी रोमांचकारी. हमारी गाड़ी धीरे-धीरे सड़क के रास्ते ऊँचाइयों पर बढती जाती. हम यहाँ पर वन विभाग के रेस्ट हॉउस (Rest House) में ठहरे. लकड़ी का बना ये पुराना रेस्ट हॉउस देखकर बड़ा अच्छा लगा. माउन्ट हैरियट (Mount Harriet) से नार्थ बे बीच (North bay beach) को देखना बड़ा मजेदार रहा. यहाँ नार्थ बे पर अवस्थित लाइट-हॉउस (Light House) भी देखा जा सकता है.
माउन्ट हैरियट (Mount Harriet) पार्क में बने निकोबारी हट (Nikobari Hut) के क्या कहने. देखिये न मेरी जानदार फोटो. यहाँ पर पार्क में झूला झूलने का भी आनंद लिया.
एक ऐतिहासिक धरोहर यह भी.

अंडमान-निकोबार (Andaman & Nicobar Islands) में हर जगह साईट सीन देखने के लिए हट(Hut) बनी हुई हैं. इक हट यहाँ भी. थोड़ा सा आराम भी जरुरी है. आप भी जब कभी अंडमान आयें तो माउन्ट हैरियट (Mount Harriet) की सैर जरुर करें. खूब मजा आयेगा !!

( इस पोस्ट की चर्चा झिलमिल करते सजे सितारे (चर्चा मंच-131) के अंतर्गत भी देखें )

एक टिप्पणी भेजें