आप सब 'पाखी' को बहुत प्यार करते हैं...

रविवार, जून 24, 2012

अक्षिता (पाखी) की कुशीनगर यात्रा..

पिछली पोस्टों में मैंने आपको अपनी सारनाथ और लुम्बिनी यात्रा के बारे में बताया था. इसी क्रम में हम कुशीनगर भी घूमने गए. कुशीनगर में ही महात्मा बुद्ध जी का महापरिनिर्वान हुआ था. सर्वप्रथम हम पहुंचे रामाभर स्तूप. रामभार झील के निकट स्थित यह स्तूप भगवान बुद्ध के अंतिम संस्कार का द्योतक है.यहाँ पर महात्मा बुद्ध जी की स्मृति में कई बुद्धिस्ट मंदिर भी बने हुए हैं. एक-से-बढ़कर एक..कुशीनगर स्थित म्यूजियम भी हमने देखा..वाकई खूबसूरत..ढेर सारी चीजें देखने-समझने का अवसर मिला मुझे.अगली पोस्ट में आपको दर्शन करायेंगें महात्मा बुद्ध जी के परिनिर्वाण स्थली का..!!






एक टिप्पणी भेजें