आप सब 'पाखी' को बहुत प्यार करते हैं...

गुरुवार, नवंबर 18, 2010

ननिहाल से ददिहाल...

आजकल अपने ननिहाल में नाना-नानी के साथ हूँ. मम्मा और मेरी छोटी बहन तो हैं ही. नाना-नानी के साथ खूब मस्ती करती हूँ. दिन भर धमाचौकड़ी. मेरा ननिहाल सैदपुर (गाजीपुर) में है. यह बनारस के पास है. कल मैं मम्मा और बहना के साथ ददिहाल (आजमगढ़) चली जाउंगी. अब तो पापा भी आने वाले हैं, हम सभी को पोर्टब्लेयर ले जाने के लिए. वह भी सोमवार तक आ जायेंगें. अभी तो बस पैकिंग हो रही है, हर चीज बिखरी हुई है. इधर मेरी पढाई भी काफी डिस्टर्ब हुई है.

मैं तो बहुत खुश हूँ. इतने दिनों में दादा-दादी, नाना-नानी, मौसा-मौसी, चाचू सभी का ढेर सारा प्यार मिला और अब पोर्टब्लेयर जाने की तैयारी. इस महीने के अंत तक हम पोर्टब्लेयर में होंगें. मुझे अपने घर, सायकिल, खिलौनों, टीचर जी और दोस्तों सभी की बहुत याद आती है. यहाँ तो ठण्ड पड़ने लगी है, पर पोर्टब्लेयर में मौसम भी अच्छा है. और हाँ, इस बीच इक अच्छी बात और हो गई कि बनारस और कोलकाता के बीच जेट की सीधी फ्लाईट शुरू हो गई है. अब लखनऊ तक जाने की जरुरत नहीं..!!
एक टिप्पणी भेजें