आप सब 'पाखी' को बहुत प्यार करते हैं...

मंगलवार, दिसंबर 31, 2013

नव वर्ष -2014 का स्वागत …



ढलता जायेगा सूरज 


बढ़ती जायेगी समय की सुई 


रात के आगोश में 
सो जायेगा पुराना साल 


चमचमाती लाइटों के बीच 
होगा नए साल का धमाल 


कड़कड़ाती ठण्ड के बीच 
रजाइयों में दुबके हम 


अहा!
स्वागत करो सूरज की  किरणों का 
आ गया है एक और नया साल .... !! 



नव वर्ष -2014 पर आप सभी को ढेर सारी बधाईयाँ। 
आप सब अपना आशीर्वाद और स्नेह देना न भूलियेगा।

HAPPY NEW YEAR -2014







एक टिप्पणी भेजें