आप सब 'पाखी' को बहुत प्यार करते हैं...

गुरुवार, अक्तूबर 18, 2012

काश मैं भी चिड़िया होती...

 
यह देखिये, मैंने बनाई एक प्यारी सी चिड़िया का चित्र. जब मैं सुबह स्कूल जाती हूँ तो मेरे लॉन में ढेर सारी चिड़िया दिखती हैं. कोई फुदकती है, कोई चहचहाती है, कोई आराम से बैठी होती है तो कोई कभी यहाँ-कभी वहाँ उड़ती नजर आती है.
 
मैं सोचती हूँ कि काश मैं भी चिड़िया होती तो दूर आसमान तक घूम कर आती !!
एक टिप्पणी भेजें