आप सब 'पाखी' को बहुत प्यार करते हैं...

शनिवार, जून 02, 2012

अक्षिता (पाखी) का एक और प्रयास...

आजकल स्कूल की छुट्टियाँ हैं, सो मस्ती ही मस्ती है. इसीलिए मेरे ब्लॉग पर बहुत कुछ नहीं हो पा रहा है. इस बीच एक अच्छी चीज यह हुई है मैं हिंदी और अंग्रेजी के अक्षरों को मिलाकर लिखने लगी हूँ. सिर्फ लिखती ही नहीं हूँ, बल्कि उनका चित्र भी बनाती हूँ।




मुझे तो इंतजार है, कब मैं जल्दी से जो चाहूँ, वह लिख सकूँ।

मेरे इस पेज पर पानी गिराने का कार्य किया है मेरी प्यारी सी बहन अपूर्वा ने..आखिर उसका भी तो कुछ योगदान होना चाहिए !!
एक टिप्पणी भेजें