आप सब 'पाखी' को बहुत प्यार करते हैं...

गुरुवार, अप्रैल 19, 2012

नन्हीं कलम नाम है, लेकिन काम बड़ों का करती हूँ....



नन्हीं कलम नाम है,
लेकिन काम बड़ों का करती हूँ.
पथ में जो कुछ दिखता है,
शीतल जल से भरती हूँ.

आज इसी शीर्षक से मुझ पर एक रिपोर्ट दैनिक जागरण ने कवर की है. इस पर मेरे ब्लॉग के बारे में भी बताया गया है. आप भी इसे उपरोक्त इमेज पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं.

एक टिप्पणी भेजें