आप सब 'पाखी' को बहुत प्यार करते हैं...

रविवार, अप्रैल 08, 2012

ये रहा अक्षिता (पाखी) का सन-ग्लास

आजकल तो इलाहाबाद में खूब गर्मी पड़ रही है. कहाँ अंडमान का सुहाना मौसम और अब इलाहाबाद की गर्मी.एक तो सूरज दादा सबको परेशान किये हुए हैं, वहीँ सिविल लाइंस, जहाँ हमारा आवास है, बाहर निकलिए तो खूब सारे गड्ढे खुदे हुए हैं. इत्ती धूल उडती है कि अब आँखों का ख्याल तो करना ही पड़ेगा. इसीलिए मैंने भी एक खूबसूरत सन-ग्लास ले लिया है. अब देखती हूँ, सूरज दादा कैसे परेशान करते हैं या धूल कैसे मेरी आँखों में जाती है !!

(ये सारी फोटो हमारे आवास के लान की हैं )
एक टिप्पणी भेजें